शाहीन बाग की क्रांति गर्ल सफूरा जरगर अविवाहित गर्भवती

शाहीन बाग की क्रांति गर्ल सफूरा जरगर अविवाहित गर्भवती

सफूरा ने सोमवार को एक अधिकारी से बदतमीजी से बात की थी। बताया गया है कि तीन महीने की गर्भवती सफूरा के अलावा और भी महिला कैदी यहां ऐसी हैं, जो गर्भवती हैं। जेल में रहते हुए कई महिला कैदियों की डिलिवरी भी हुई है।


कौन है सफूरा जरगर..
शाहिन बाग दिल्ली मे नागरिकता बिल के विरोध में हुए अघोषित सड़क जाम के बारे में तो आप अच्छे से जानते ही होंगें, कि कितने लोगों ने उस दौरान परेशानियाँ झेली थीं, गुडग़ांव और साउथ दिल्ली या नोएडा से दिल्ली जाने वालों को उस समय के जाम ने नाकों तले चने चबा दिये थे.
उसी शाहिन बाग की क्रांति गर्ल सफूरा जरगर के बारे में स्व खुलासा हुआ है, वैसे ये मौहतरमा अभी शाहिन बाग और दिल्ली दंगों मे संलिप्तता के चलते तिहाड़ जेल में बंद हैं और यदि ये तिहाड़ जेल में ना होती तो हम सभी को इस खबर का पता संभवत: ही नही चलता,

सफूरा जरगर गर्भवती हैं

सफूरा के गर्भकाल पर लोग 2-3 महीने का अंदेशा लगा रहे हैं।
जामिया में पढने वाली सफूरा अभी तक अविवाहित हैं और इनकी गर्भावस्था की चर्चा हम भी इसलिए ही कर रहे हैं, क्युकी ये मोहतरमा टुकड़े टुकड़े गैंग की सदस्य मानी जाती है, इसलिए वामपंथ की इनकी विचारधारा किसी से नही छुपी है,
जेल अधिकारियों का कहना है कि जब से कोरोना वायरस का आतंक शुरू हुआ है। तब से जो भी कैदी जेल में लाया जाता है। उसे शुरूआत के कम से कम 14 दिन अलग आइसोलेशन वॉर्ड में बिताने पड़ते हैं, ताकि अगर उस कैदी को कोरोना वायरस के कोई लक्षण हो तो वह अन्य कैदियों तक न पहुंचे। इसी के चलते सफूरा को भी अलग सेल में रखा गया था। समय पूरा होने के बाद अब सफूरा को अन्य कैदियों के साथ रखा गया है। जेल अधिकारियों का कहना है कि सफूरा ने सोमवार को एक अधिकारी से बदतमीजी से बात की थी। बताया गया है कि तीन महीने की गर्भवती सफूरा के अलावा और भी महिला कैदी यहां ऐसी हैं, जो गर्भवती हैं। जेल में रहते हुए कई महिला कैदियों की डिलिवरी भी हुई है।
मजे की बात यह सफूरा जरगर छात्रा है जामिया में पढ़ती हैं और अभी शादीशुदा नहीं है, और सोशल मीडिया पर लोग शाहीन बाग को न केवल अय्याशी का अड्डा बता रहें हैं बल्कि सफूरा के गर्भवती होने को इससे जोडकर भी देख रहे हैं, इन लोगों का यह भी कहना है कि पूरा भेद खुल जाने पर तमाम एक्टिविस्ट यह कह रहे हैं सफूरा जरगर की तो सगाई हो गई थी और वह अपने फ़ियानसे के साथ लिव-इन में रहती थी,
हद तो तब हो गयी जब रेनकोट के बिना स्नान की बातों को भी लोग सफूरा के ऊपर डालकर लिखने लगे हैं, लोग सफूरा के बच्चे के पिता के बारे में न केवल जानने के लिए उत्सुक हैं अपितु इस खबर से सफूरा जरगर चर्चा के दायरे में आ गयी हैं,
वैसे बिना विवाह के गर्भवती होने भारत समाज में अच्छा नही माना जाता, लेकिन हमारी शुभकामनाएं सफूरा जरगर के और उनके शिशु के साथ हैं




Post a comment

0 Comments